Select Language:   English  /  Hindi  /  Telugu  /  Kannada  /  Tamil

इस सप्ताह के लिए पिता के ह्रदय से    (07/01/2018)

जागृति

परमेश्वर पुनः जागृति भेजने जा रहे हैं।प्रभु यीशु की वापसी के पूर्व वे इस ग्रह पृथ्वी को एक बार फिर सामर्थी तौर पर स्पर्श करने जा रहे हैं।

हर एक जो इच्छा रखता हैं, प्रभु को अधिकाई से जानने की लगन/जुनून रखता है और अपने स्वार्थ के कारण नही पर प्रभु की खातिर उन्हें खोजने में लगा हो,वही वह पात्र होगा जिसे पवित्र आत्मा की परिपूर्णता मिलेगी। वे राजा को उसकी पूरी खूबसूरती में देखेंगे और उसे दूसरो पर प्रगट करेंगे।

जो परमेश्वर को आशीष, सामर्थ और समृद्धि मात्र के लिए खोजते हैं वे भी निश्चित आशीषित होंगे परन्तु वे जो सिर्फ यीशु को चाहते है वे उन लोगो मे शामिल होंगे जो यीशु को जानेगे। यीशु उनमे से होकर अद्वितीय तरीके से प्रकट होंगे।परमेश्वर के प्रेम और सामर्थ का प्रदर्शन उनके द्वारा असाधारण रूप से दुनिया के लोगो पर होगा। उसी के साथ स्वर्गीय छेत्रो में भी सामर्थ और अधिकार के प्रगटीकरण के लिए वे परमेश्वर की बुद्धि के अनगिनत पहलुओं में उपयोग किए जायँगे।

प्रभु जो अपनी कलीसिया(सोने की सात दिवटो) के मध्य चलता फिरता है अपनी कलीसिया मे जाना जाएगा और महिमा पायेगा। वे जो अपने को नम्र कर पश्चात्ताप करेंगे वे बचाए जाएंगे , बाकी नाश हो जायँगे। कलीसिया और सेवकाई में ऐसे लोग जो समझते है कि वे सब कुछ जानते है वे यीशु के प्रगटीकरण से वंचित रह जाएंगे।

अंधे बरतिमाई ने यीशु के बारे में सिर्फ सुन रखा था। परंतु जब उसने यीशु को देखा तो पाया उसने ही उस की आँखे खोली थी। "उसने यीशु के विषय सुन रखा था" और "उसने दृष्टि पाई" के बीच परिभाषित किया जानेवाला वो षन था जिसमें उसने दया के लिए पुकारा था और उस पुकार ने यीशु को रोक दिया,यीशु ने उसे बुलाया और उसकी बिनती स्वीकार कर लिया। यह केवल परमेश्वर को उसकी दया के लिए हमारी पुकार हैं जो अंतिम समय की जागृति के विषय सुने हुए से बाहर निकलकर उसे देखने और अनुभव करने मे हमे लेकर आएगी ।

प्रभु हम पर दया कीजिए।

एस.आर. मनोहर

Order Audio Sermons :                     View our various Audio Sermons

Recent Audio Sermons

Way of the Cross  
Only when you know the Work of the Cross and apply it to your life, then only you will know the Way of the Cross. A study on the Work of the Cross.

The Victorious Life of Jesus
There was tremendous victory in the life of Jesus.Unless we get that Spirit of Victory in us we can never lead a continuous victorious life.

The Righteousness & Justice of God
Righteousness & Justice are the two main attributes of God which are the foundation of His throne.

The God of Comfort
God comes alongside to take care of our affairs. How God Comforts us and why He comforts us.

Blocking God
We have heard how the enemy blocks God’s people and how God’s people block the enemy.